Hello There, Guest!  
Thread Rating:
  • 1 Vote(s) - 5 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5

DARD AE DIL SHAYRI AND QUOTE ( DAILY UPDATED )

#21

आज फिर गर्दिशे तकदीर पे रोना आया
दिल की बिगड़ी हुई तस्वीर पे रोना आया
इश्क की कैद में तो अब तक उमीदों पे जिए
मिट गई आस तो जंजीर पे रोना आ
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#22
हवा सा, धूप सा, यादों के झोंके सा उधर जाएं
कभी छूकर तुझे चुपचाप मौसम सा गुज़र जाएं
मेरी बीती कहानी इस अदा से मत सुना मुझको
ये मुमकिन है कि मैं हंस दूं, तेरी आंखें न भर जाएं
कोई कपड़े, कोई ताक़त, कोई जेबें टटोलेगा
फ़रिश्ते भी अगर एक रोज़ धरती पर उतर जाएं
बहुत तरतीब से रहना कभी आया नहीं हमको
हमारे पास रख दो आईना, हम भी संवर जाएं
अभी दिल में हज़ारों ख़्वाहिशें उतरी हैं चुपके से
हैं पलकें मुन्तज़िर दो बूंद आंखों से उतर जाएं
बहुत थोड़ा सही इस प्यार को सीने में रख लेना
यहां से लौट जा, हम भी यहां से अपने घर जाएं
अज़ब रिश्ता है जीते जी तो मिलना हो नहीं पाया
ख़ुदाया क्या करोगे हम अगर इस वक़्त मर जाए
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#23
सब कुछ हासिल नहीं होता ज़िन्दगी में
यहाँ... किसीका
"काश" तो किसी का "अगर" छूट ही जाता है...!!!!
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#24
कहीं कोयला तो कहीं खदान बिक रहा है.
गोल गुम्बद में हिंदुस्तान बिक रहा है..
यूँ तो कागज गल जाता है पानी की एक बूँद से.
चंद कागज़ के नोटों में मगर ईमान बिक रहा है..
गुलामी का दौर चला गया कैसे कहें जनाब.
कहीं इंसानियत तो कहीं इंसान बिक रहा है..
आज की नयी नस्लें होश में रहती कब हैं..
कैंटीन में चाय के साथ नशे का सामान बिक रहा है..
आधुनिकता और कितना नंगा करेगी हमको..
बेटे के फ्लैट के लिए बाप का मकान बिक रहा है
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#25
कही तुम भी न बन जाना किरदार किसी किताब का,
लोग बड़े शौंक से पढ़ते है, कहानिया बेवफाओ की
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#26
सफर-ए-जिन्दगी मेँ जब कोई
मुस्किल मकाम आया।
~
ना गैरोँ ने तवज्जो दी ना अपना कोई
काम आया।।
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#27
अब ख्वाबों मे रिश्ते बनाता हूँ मै
तेरे दामन को और भी क़रीब पाता हूँ मै
राह-ए-उल्फ़त मुश्किल तो है
मगर.....
तेरी यादों से अपनी साँसे चलाता हूँ मै....
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#28
Tum bin kya hai jeena, kya hai jeena
Tum bin kya hai jeena
Tum bin jiya jaaye kaise
Kaise jiya jaaye tum bin
Sadiyon se lambi hain raatein
Sadiyon se lambe hue din
Aa jaao lautkar tum, yeh dil keh raha hai...

Phir shaam-e-tanhaai jaagi
Phir yaad tum aa rahe ho
Phir jaan nikalne lagi hai
Phir mujhko tadpaa rahe ho
Phir mujhko tadpaa rahe ho
Is dil mein yaadon ke mele hain
Tum bin bahut hum akele hain
Aa jaao lautkar tum, yeh dil keh raha hai...

Kya kya na socha tha maine
Kya kya na sapne sajaaye
Kya kya na chaaha tha dil ne
Kya kya na armaan jagaaye
Kya kya na armaan jagaaye
Is dil se toofaan guzarte hai
Tum bin to jeete na marte hai
Aa jaao lautkar tum, yeh dil keh raha hai...

Tum bin jiya jaaye kaise
Kaise jiya jaaye tum bin
Sadiyon se lambi hain raatein
Sadiyon se lambe hue din
Aa jaao lautkar tum, yeh dil keh raha hai...
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#29
जब भी करीब आता हूँ बताने के किये;
जिंदगी दूर रखती हैं सताने के लिये!
महफ़िलों की शान न समझना मुझे;
मैं तो अक्सर हँसता हूँ गम छुपाने के लिये!
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
#30
आज फिर गर्दिशे तकदीर पे रोना आया
दिल की बिगड़ी हुई तस्वीर पे रोना आया
इश्क की कैद में तो अब तक उमीदों पे जिए
मिट गई आस तो जंजीर पे रोना आ
[GH निर्वाचन अधिकारी] join me at fb http://facebook.com/napstergh[Image: etoile.gif]
 Reply
 
Forum Jump:

Users browsing this thread: 1 Guest(s)